_mann_j

www.instagram.com/_mann_j

Waqt ko chodo yarr chlo thodi guftgu hi kr lete hai...����

Grid View
List View
Reposts
  • _mann_j 4h

    Tere dar pr sanam chale aye,
    Tu naa aya to hm chale aye...����

    Pc credit goes to rightful owner....☘

    Read More

    तेरे दर तक आकर कोई लौटना क्यूँ चाहें?
    रूह में उतरकर ज़िस्म में लौटना क्यूँ चाहें?

    देख जरा खुद को आईनों में मुब्तला ऱखकर,
    कयामत, क़ायनात सब है घर लौटना क्यूँ चाहें!
    ©मनोजसिंह परमार
    ©_mann_j

  • _mann_j 15h

    All credit goes to garima @timeblossom just added my few thoughts....☘
    ---------------------------------------------------------
    Ye duniya hai janab
    Chalti raho me piche se thokar,
    Aur samne se gale lagayegi,

    Ye duniya hai janab
    Lagega koi aansu poch rha hai,
    Yarr ye galatfehmi tuje roj karayegi,

    Ye duniya hai janab
    Tuje kandhe par jarur bithayegi,
    Par apna matlab nikalte hi tuje mitti me milayegi,

    Ye duniya hai janab
    Paap karwa kar ganga me paap dhaulwayegi,
    Bure karmo ka thaila bhagwan ko haath thamayegi,

    Ye duniya hai janab
    Pal-do-pal nahi har roj satayegi,
    Do waqt ki bhukh k liye har roj milo chalwayegi,

    Ye duniya hai janab, apne dil ki hi tuje karwayegi.
    ©Mann_j
    ©Gar! _Ma

    Read More

    .


    ©_mann_j

  • _mann_j 18h

    Word meaning :-
    फ़ज़ा-ए-ग़म - weather of grief
    शरीक - participator
    तबदील - altered
    खलिश - crystal
    ---------------------------------------------------------pc credit goes to rightful owner...☘

    Read More

    फ़ज़ा-ए-ग़म भी शरीक ना हुआँ,
    अब्र अश्क़ में तबदील ना हुआँ,

    कोई खलिश है आज भी दिल में,
    यूं ही नही मैं दिल के किनारे हुआँ!
    ©मनोजसिंह परमार
    ©_mann_j

  • _mann_j 1d

    Pic credit goes to my brother he drew this beautiful picture...����������������
    ---------------------------------------------------------
    इश्क़ को क्या समझते हो तुम,
    यूं ही जलने चल निकले हो तुम!

    आगे का रास्ता देखा या नही,
    यूं ही बे-खबर चल निकले हो तुम!

    सुनो सबब तो जान लेते मुझसे,
    यूं ही अनपढ़ चल निकले हो तुम!

    साहिल इश्क़ का बड़ा कातिल है,
    यूं ही कश्ती डुबाने चल निकले हो तुम!

    जरा ढहर जाओ पैर पीछे करलो,
    अनजान दहलीज लांघने चल निकली हो तुम!
    ©मनोजसिंह परमार

    Read More

    इश्क़ को क्या समझते हो?
    ©मनोजसिंह परमार
    ©_mann_j

  • _mann_j 2d

    Esa likhne ki aadat ho gai h...��
    Pc credit goes to rightful owner...☘

    Read More

    रिश्ते टूटते नही बस उम्र बढ़ती है,
    इंसान बढ़ता नही बस ज़िन्दगी बढ़ती है.

    कोई पूछे मुझे वफ़ा-ए-इश्क़ क्या है,
    ज़ख्म मेरा हो और साँसे उसकी बढ़ती है.
    ©मनोजसिंह परमार
    ©_mann_j

  • _mann_j 3d

    Chalti ka naam h zindagi...������✌
    Good morning folks...������☕☕☕
    Pc credit goes to rightful owner...��

    Read More

    वो शक्श ही क्या जो ख़्वाब ना देखें,
    वो इंसान ही क्या जो गम में ना हँसे!

    ज़िन्दगी में तजुर्बे तो बहुत मिलेंगे हमें,
    वो इंसान ही क्या जो ठोकर ना खाएँ!
    ©_mann_j | मनोजसिंह परमार

  • _mann_j 3d

    Ek mtla aur ek sher...��
    Pc credit goes to rightful owner...��

    Read More

    Ek mtla aur ek sher

    अब ज़िन्दगी से एक यही सवाल है,
    कोई पूछता नही हाल यही सवाल है!

    क्यूँ ज़ख्मो पर कोई मलहम लगाएं,
    खुद के ज़मीर से एक यही सवाल है!

    ©मनोजसिंह परमार
    ©_mann_j

  • _mann_j 4d

    Dil tootne k bad fir ek bar vishwas krna thoda sa mushkil ho jata h...But it's ok...��

    Pc credit goes to rightful owner...��

    Read More

    वो लड़की थोड़ी परेशा है, मुझे देख थोड़ी सी हैरा है,
    टूटा दिल जो जोड़ा मैंने, हाँ देख इश्क़ फिर परेशा है!
    ©_mann_j | मनोजसिंह परमार

  • _mann_j 5d

    Incomplete h complete kr do...��
    Pc credit goes to rightful owner...☘

    Read More

    मेरे हक़ की हवा भी उसके नसीब हो जाएँ,
    हाथों की टूटी लकीरें भी कामिल हो जाएँ !
    ©_mann_j

  • _mann_j 5d

    Bezaar :- to be sick of (अप्रसन्न)
    Pc credit goes to rightful owner...☘

    Read More

    काँटे चुभते है प्यार भरी बातो से,
    हाँ इसलिए भी दिल बेज़ार रखते है!
    ©_mann_j