• ps_originals 13w

    इस post से किसी को भी आहत करने की भावना नही है, इस से सिर्फ उस कड़वी सच्चाई को दर्शाने की कोशिश की है जो जिन्दों की कदर ना करते हुए पत्थरो पर आश्रित रहते है। और उन नेताओं पर पत्थर मारने की कोशिश की है इस post से जो "बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ" जैसे दकियानूसी योजना बनाते है। बेटी बचाओ तो किन किन से बचाओ आखिर? कोख से बचाओ ? या बलात्कारियो से बचाओ ?

    अगर फिर भी किसी को इस पोस्ट से दुख पहुँचता हो तो तहे दिल से क्षमा चाहेंगे....��

    # पीला_काग़ज़ #RedInk #KuchNahiBadlega

    Read More

    “यत्र नार्यस्तु पूज्यंते रमन्ते तत्र देवता”

    (जहाँ नारियों की पूजा होती है वहाँ देवता निवास करते हैं)

    इन सब का ऊपर लिखी लाइन से कोई संबंध नही है
    आज के समय मे ये सब कल्पना बन के रह गया है।
    यदि कभी आपको यह सब महसूस होता है इसे मात्र
    एक सयोंग कहा जायेगा।

    #एक_कड़वा_सत्य
    #मानो_या_ना_मानो

    ©ps_original
    ------------------------------
    Insta@mr.semi92