• pratyancha 3w

    मुख़्तसर ये है हमारी दास्तान-ए-ज़िंदगी

    इक सुकून-ए-दिल की ख़ातिर उम्र भर तड़पा किए

    ©मुईन अहसन जज़्बी