• raushankumar 28w

    हे राम...!

    मेरा धर्म सत्य और अहिंसा पर आधारित है, सत्य मेरा भगवान है,और अहिंसा उसे पाने का साधन...
    गाँधीजी के विचार आज भी जिंदा है...