• shayara_6 53w

    जीना बिना तेरे अधुरा है
    अब तो जैसे ,
    ज़िंदगी किसी सज़ा का नाम पूरा है..!


    ©रचना