• dineshsaini 5w

    बे झिझक अश्क बहाना और बहा कर सो जाना
    इश्क़ करना और कर के सिरहाने दबा देना,

    खुद्दार बनना और व्यक्तित्व ज़िंदा रखना
    दो दिन की आईं इश्क़ ए बीमारी में जान ना देना,

    ज़िन्दगी में आई हर बला के आगे होंगी दुआए
    मां बाप को एक छोटी सी मुस्कुराहट दे देना,,

    ©dineshsaini