• happysoul45 6w

    हर शख्स परिन्दोँ का हमदर्द नही होता दोस्तोँ..

    बहुत बेदर्द बैठे हैँ दुनिया मे जाल बिछाने वाले...!!