• rmgajera 23w

    याद

    कभी कवियत्री तो कभी गायिका पे दिल आ जाता है मेरा
    हर एक वो खुबसूरत लब्ज महोंब्बत का वजूद बन जाता है

    कभी नैनो की गहराई तो कभी सादगी भरा देखु चेहरा तेरा
    जिंदगी की सफर का सपना समझो सुकून से भर जाता है

    शायद नाही मै कवि तेरे स्तर का और चेहरा शायद है गवांर मेरा
    खुद लायक ना मानते वो तीन अंग्रेजी शब्द मन ही निगल जाता है

    कभी सम्मान तो कभी प्यार से कहीं नारी को देखता दिल मेरा
    बात करने की हिम्मत न होने से हर एक चेहरा बस याद बन जाता है!

    ©rmgajera