• himanshuprajapat 16w

    हालत हो गयी बिखरे मोतियों की तरह
    तुम जरूरत हो गयी दिल की धड़कनों की तरह
    ओर वो बेवफा इस तरह हुई की
    अब मिल भी होता है दो किनारो की तरह

    उसके प्यार का असर मुझ पे इस कद्र हुआ
    की में अब तक जल रहा हु परवानो की तरह

    मुझ से बिछड़ कर वो भी कहा पहले जैसी है
    जोगन हो गयी है मीरा की तरह

    उसे बेवफा कहना मेरी ही गलती थी
    ईक रोज हम भी मिल जाएंगे चाँद सितारों की तरह।
    ©prajapat