• chahto_ka_prinda_sanjay 5w

    #आयी है

    एक दफा फिर तुम्हारी याद आयी है
    तुम गैर के हो, जानने के भी बाद आयी है
    उम्मीद दिल में फिर भी रहती है थोड़ी
    आँखे खोजती कब से ईद का चाँद आयी है

    © चाहतो का परिंदा----संजय