• blunderwoman 14w

    वो सर्द दर्या सा, मैं रेत सी प्यासी,
    लहर भर छू जाए वो जो, मख़मली सी हो जाऊं।

    ©blunderवुमेन