• rajni_pant 6w

    हजारों मिठाइया चखी हैं जमाने में, खुशी के ऑसू से मीठा कुछ भी नहीं है