• ekwahiyaatshayar 22w

    हवस और हैवानियत ही तो थी ।
    जिसने हुस्न समझकर हँसी भी खत्म करदी ।

    ©ankushshharma