• lavanya_singh 14w

    ना हिंदू खतरे में है, ना मूसलमां खतरे में है,
    हां मगर तुम्हारे अंदर का इंसान खतरे में है।

    ©lavanya_singh