• kanha007 18w

    दो सीख..

    तेरे जाने के बाद दो चीज़ें सीखी हैं मैंने
    टुकड़ों में जीना..
    और
    मुखड़ों में अपनी बातों को सीना..
    ©kanha007