• uma2017 5w

    रूतबा तो ख़ामोशियों का होता है
    ‘अल्फ़ाज़ों’ का क्या - वो तो मुकर जाते हैं हालात देखकर।
    ©uma2017