• zaminalig 5w

    ज़ख़्मी हुए जो होंट तो महसूस ये हुआ

    चूमा था किसी फूल को दीवानगी के साथ