• _ananyagupta 34w

    दिल

    आज फिर दिल ने एक बात कही
    कि तुझमें अब वो बात ना रही
    एक दफ़ा फिर मन से हमने कहा
    अब दिल बस में ना रहा
    मन बोला कभी गूंजा करता था महफ़िल में तुम्हारा नाम
    तब भी दिल ही था जिसे पता था उस नाम का दाम।


    ©_ananyagupta