• brokenshayari 5w

    "पल-पल तपते बदन पर भीगा रुमाल रखती है,
    कितनी शिद्दत से 'माँ' मेरा ख़्याल रखती है!!"