• abhratej 14w

    कुछ लोग घड़ी के कांटों की तरह होते हैं।
    चाहे लाख कोशिशें कर लो उन्हें परे रखने की,
    वह नजदीक आ ही जाते हैं।
    बहरहाल, आप चाहेंगे कि दिमाग से काम लिया जाए,
    लेकिन रिश्तों की डोर तो बाघी मन के हातों में होती है।