• shayari_tarun 25w

    "चलो चले "

    चलो चले दुर, यहां कोई आता ना हो
    तुम्हें ले चलूँ वहां, यहां कोई जाता ना हो ।

    यूं ही हस्ते रहना, मुझे देखते रहना तुम
    फिर चाहे कोई, इस कायनात में मुझे चाहता ना हो ।

    ---- Tarun Banga ✍️
    ©shayari_tarun