• wings_of_words 10w

    खट्टी मीठी यादें #बचपन

    Read More

    कुछ यूं ही बीत गया वो वक्त

    सुनहरा था मौसम, सुनहरें थे पल

    वो खिलखिलाती हँसी , वो रंग भरा आसमान

    वो फूल से मासूम चेहरे , वो अलग सी पहचान

    सब थे अपने , सब थे एक समान

    दुनिया की इस हलचल में कहाँ खो गई 'मुस्कान'

    वो खिलखिलाती हँसी ,वो सुनहरा आसमान ॥



    ©wings_of_words