• nitin_sharma 15w

    कह दो इन तेज़ हवाओं से कि मैं खड़ा रहूंगा,

    इनकी बेरुख़ी से न टूटेगा मेरा हौसला मैं अड़ा रहूंगा,

    तूफानों की तैयारी करके निकला हूँ सफ़र पर,

    अभी पत्थर हूँ, इनके घिसाव से हीरा बनके जड़ा रहूंगा।

    ©nitin_sharma