• lokesh_pareek14 16w

    कुछ वक्त हो चला है, इस कलम को उठाये।
    नज़रो को झुकाये और मोहब्बत में इतराये।
    :-लोकेश पारीक