• bingie 6w

    सच कहूं तो मेरी खुद की अनुभूति भी यही है कि दिल का शख्श बनना बहुत ज्यादा मुश्किल है,

    और ठीक उसके विपरीत दिमाग का शख्श होना बहुत ही ज्यादा आसान!!

    तो क्या फायदा है ऐसे नुकसान को उठाकर जहाँ दिल की अनसुनी कर इंसान दिमाग से बस खेल खेला रहा है।
    ©bingie