• sometinytales 4w

    फिर कोई जुदा नहीं कर पाएगा हमें ,


    अगली बार आना तू , मेरे मजहब की बन कर....!!





    ©sometinytales