• jaykijigyasa 7w

    अफसोस

    अफ़सोस नहीं इसका हमको, जीवन में हम कुछ कर न सके,
    झोलियाँ किसी की भर न सके, सन्ताप किसी का हर नसके, 

    अपने प्रति सच्चा रहने का, जीवन भर हमने काम किया,
    देखा-देखी हम जी न सके, देखा-देखी हम मर न सके ।