• strangers_dream 10w

    नामुमकिन

    कि मुमकिन नहीं खुशी तेरे बिना महसूस कर सकूं,
    कि सांसे भी बिना तेरे लू का थपेड़ा लगती हैं|
    कि सिसकियों में सिमटी रही जिंदगी तेरे बिन,
    आज तुझसे आज़ाद हूँ तो बड़ा अपना सा लगता हूँ||


    @strangers_dreams