• harshrana1998 2w

    ए जिन्दगी क्यों इतने सितम ढह रही है
    कहीं तु मुझे आजमा तो नही रही है
    ©harshrana1998