• ikashyapsandeep 23w

    दर्द की बातें न किया करो जनाब,
    कुछ लोग बेदर्द होते हैं ।

    तुम शायरी को ज़रिया बनाते हो ,
    और कुछ लोग तुम्हें आशिक़ समझतें हैं ।
    ©ikashyapsandeep