• inkheart_writings 1w

    ख़्वाबो से नाता तोड़ दिया मैंने,
    शायद यही तुम्हें पाने की कीमत थी
    ऐ-खुशी।