• romapathak 6w

    ललकार

    ज़िन्दगी सिफारिशों पर नहीं चलती कभी,
    खुद के वजूद को भी, ललकारना पड़ता हैं।



    हयात
    ©romapathak