• hina22 15w

    संगीत

    बच्चाें की रुदन में,पक्षियाें के कलरव में,बारिश की रिमझिम में, पत्ताे की सरसराहट में, झींगुराे की रुनझुन में बहता मधुर संगीत है, बस सुनने की इच्छा हाे, आप विचरते हैंं अलाैकीक संसार में और एकाकार हा्े जाते है परम शक्ति से,परे हाे जाते हैं सांसरिक दुखाे से!!