• writershikhakashyap 6w

    तेरी एक मुस्कराहट के लिए ये आँखें तरस जाती हैं।
    हर शाम तुझसे मिलने के लिए तरस जाती हैं।
    वो रात चाँदनी तेरे ही इन्तजार मे आती हैं
    जब इस साथ को तेरे साथ की जरूरत हो जाती हैं।

    ©writershikhakashyap