• cb_m_a_r_t 6w

    । माँ बस माँ ।

    थकान भी थक के थक जाती है ,
    जब बो माथे पर हाथ फिराती है,
    क्या होगी और जन्नत पता नहीं ,
    जब यहीं मेरी माँ मुझे लल्ला बुलाती है।।

    C.BM
    ©cb_m_a_r_t