• _toshi 6w

    मैं इस दुनिया को अक्सर देखकर हैरान होता हूँ
    न मुझसे बन सका छोटा सा घर, दिन रात रोता हूँ
    खुदाया तूने कैसे ये जहां सारा बना डाला

    so thoughtful and so true

    Anand Bakshi Sahab & Ghulam Ali Sahab

    ©_toshi