• theesotericsoul 6w

    ।। खुशि के बीज ।।

    छाले पड़े अगर पांव में
    ओले पड़े मन के गांव में
    दिल में अगर तुफान आए
    आंसूओं का उफ़ान आए
    इच्छाओं की बली चढे
    उम्मीद जब अकेली पड़े
    चारों तरफ अंधेरा छा जाए
    रोशनी फिर भी नजर ना आए
    भीड़ में जब तुम खो जाओ
    चाहते हुए भी रो ना पाओ

    तब तुम बस एक बार मेरी ओर देखना
    अपने नफरत के बक्सों को समुद्र में फेंकना
    दुसरे हीं पल मैं तुम्हारे पास होऊंगा
    तुम्हारे जीवन में खुशियों के नए बीज बोऊंगा

    -Saurav