• mofizakhtar 3w

    #शायरी

    Read More

    कब तक सुनाते रहोगे किस्से मुझे उसके इनकार की,
    कभी तो सुनो मुझसे भी, तारीफें जाने-बहार की।।

    mm@khtar