• chahton_ka_prinda_sanjay 15w

    #ओ दिलवर

    बीती जाती है ये रैना
    फिर ना तुम कहना
    इन नजारो को देखो
    ये कुदरत का गहना


    दिलवर....ओ दिलवर
    दिलवर....ओ दिलवर


    है निगाहो की आस ये
    दिल के है पास ये
    मानो मेरी बात को


    मेरे दिलवर..ओ दिलवर

    © चाहतो का परिंदा----संजय