• inkpot_ 9w

    ख़ामोशी सब कुछ बयां करती हैं,
    ज़रूरत तो बस,
    उस ज़ज्बात की है,
    जो उस ख़ामोशी को समझ सके।
    ©inkpot_