• srivastavaayush 14w

    हों लाख अजनबी चेहरे महफ़िलों में मगर
    एक जो तु हो तो हर शहर लखनऊ हो जाए।