• kavi_jeet 3w

    माँ

    चंद सिक्के कमाने निकला था घर से
    अब ये जुनूँ है की उतरता ही नहीं सर से
    माँ आज भी चौखट पे बैठे इंतज़ार करती है
    की बेटा शायद आज लौट आए शहर से।
    ©kavi_jeet