• rahimeet 15w

    न जाने ये कैसा शोर हो रहा था
    देखा तो आजमाइशों का जोर हो रहा था।

    कुछ पन्ने लिखे थे किसी की याद में
    यादों में मेरी कोई मशहूर हो रहा था।

    ©rahimeet