• kuldeep07s 14w

    सुबह की चुपके चुपके घर में आने का ये क्या अंदाज़
    हो ना हो
    दबे पावं ये आई है... कोई तो है राज....
    हो ना हो
    कहाँ थी रात भर सुबह... ज़रा इससे कोई पूछे
    शर्म से मुस्कुराई है...कोई तो है राज....
    सुबह की चुपके चुपके घर में आने का ये क्या अंदाज़