• the_ank 23w

    "दर्द ए बेवफ़ाई"

    दर्द को अबतक छुपाया है, आगे भी छुपा लेंगे,
    कल सुबह मुस्कुराता हुआ चेहरा भी बना लेंगे,
    खुशी अगर तुम्हे मेरे आंसुओं में ही मिलती है,
    तो कल से इन आंखों को दरिया ही बना लेंगे।
    ©poet_ankita