• beingdivine 15w

    ओ मेरे दिल! ज़रा सुन...क्यों बार बार तू बहकता हैं?
    हर मर्तबा! नाम सुनके उसका... इत्र सा महकता हैं!
    ©beingdivine