• manish_2701 5w

    अशिफ़ा के वहशियों के खिलाफ एक बार आवाज उठा कर देख.......


    ना हिन्दू ,ना मुस्लमान ,ना सिख बनकर देख
    छोड़ ये सब बातें तू सिर्फ इंसान बनकर देख...

    निर्भया और अशिफ़ा थी हमारी ही बेटियाँ,
    इस ज़ात पात से कभी अंजान बनकर देख...

    तू इंसान बनकर देख........

    जिन दरिन्दों के हक़ में तू बोल रहा है आज,
    उन ज़ालिमों के घर में मेहमान बनकर देख..

    इस दिल को तुम्हारे बहुत ही सुकून मिलेगा,
    किसी ग़रीब दबे हुए की ज़बान बनकर देख..

    तू इंसान बनकर देख........

    पैरों के ज़ख्मो के दर्द से अगर होना है राबता,
    कभी जंगल का रास्ता सुनसान बनकर देख..

    कभी इंसान बनकर देख.....

    कभी इंसान बनकर देख.....

    कभी इंसान बनकर देख.....

    ©manish_2701
    .
    .
    .

    .
    .



    .
    @writersnetwork @mirakees @mirakeeworld @baanee @sallonii_ @vandana_bhardwaj @shivay @monika_kakodia @hindiwriters
    @readwriteunite
    .
    .#ashifa #justiceforashifa #ripashifa #motivational #inspirational #poetry #indianhindipoetry #hindipoetry

    Read More

    "Ashifa"