• imbhushan 7w

    जज़्बात

    कभी कभी जज़्बात इतने हो जाते हैं कि लिखने को शब्द नहीं मिलते।

    ©imbhushan