• annie_merikalamse_ 13w

    अजीब कश्मकश में ज़िन्दगी फसी है...
    कभी थमी है ,कभी तेज़ रफ़्तार है...
    कभी खुशियो का भवर है, कभी रिस्तो का कहर है...
    कभी ये डरा देती है, तो कभी ये हँसा देती है...

    नटखट सी है हैरान सी है..!!
    प्यारी सी है, नादान सी है..!!.

    वक़्त के साथ सरपट दौड़ती...
    कभी किस्मत के साथ चलती ..
    तो कभी किस्मत का मुँह मोड़ती..

    चुलबुली और कभी शैतान सी है..
    ऐ-ज़िन्दगी तू बहुत नादान सी है..
    ©_annie_

    Read More

    ज़िन्दगी 3

    अजीब कश्मकश में ज़िन्दगी फसी है...
    कभी थमी है ,कभी तेज़ रफ़्तार है...
    कभी खुशियो का भवर है, कभी रिस्तो का कहर है...
    कभी ये डरा देती है, तो कभी ये हँसा देती है...

    नटखट सी है हैरान सी है..!!
    प्यारी सी है, नादान सी है..!!.

    वक़्त के साथ सरपट दौड़ती...
    कभी किस्मत के साथ चलती ..
    तो कभी किस्मत का मुँह मोड़ती..

    चुलबुली और कभी शैतान सी है..
    ऐ-ज़िन्दगी तू बहुत नादान सी है..
    ©_annie_