• abhishekmanukumar 22w

    तुम ही समझा देना ये बात
    ज़मानें को
    बेवज़ह किसी की आवाज़ गुंजती नहीं हैं